ज़ेरोधा के नितिन कामथ ने संदिग्ध क्रेडिट ऐप्स द्वारा उत्पीड़न की चेतावनी दी और पीड़ितों को साइबर क्राइम पोर्टल या हेल्पलाइन के माध्यम से रिपोर्ट करने के लिए प्रोत्साहित किया | कॉर्पोरेट समाचार :-Hindipass

[ad_1]

नयी दिल्ली: हाल ही में एक सोशल मीडिया पोस्ट में, ज़ेरोधा और रेनमैटर के संस्थापक और सीईओ नितिन कामथ ने संदिग्ध और अवैध पाइरेट क्रेडिट ऐप्स की उत्पीड़न रणनीति के कारण होने वाली आत्महत्याओं में चिंताजनक वृद्धि पर प्रकाश डाला। कामथ ने पीड़ितों से कार्रवाई करने का आग्रह किया और ऐसी घटनाओं की रिपोर्ट करने के लिए संसाधन उपलब्ध कराए।

कामथ के अनुसार, ये ऋण देने वाले ऐप उधारकर्ताओं को 100% से 200% तक की अत्यधिक ब्याज दरों का लालच देते हैं। इसके अलावा, ऐप इंस्टॉल करते समय, उपयोगकर्ता अनजाने में संपर्कों और फ़ोटो सहित अपनी व्यक्तिगत जानकारी तक पहुंच प्रदान करते हैं। जब उधारकर्ता अपना ऋण चुकाने में विफल हो जाते हैं, तो वे लगातार उत्पीड़न का शिकार हो जाते हैं क्योंकि ऋण दलाल उनके संपर्कों को अपमानजनक फोन कॉल और छेड़छाड़ वाली अश्लील तस्वीरों के साथ निशाना बनाना शुरू कर देते हैं।

कामथ ने इस बात पर अविश्वास व्यक्त किया है कि किस हद तक व्यक्तियों को ऋण सुरक्षित करने के लिए व्यक्तिगत जानकारी का खुलासा करने की आवश्यकता होती है, और प्रति वर्ष 50-100% की ब्याज दरों पर पैसे उधार लेने की बेतुकी बात पर जोर दिया है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि ये ऐप अवैध रूप से संचालित होते हैं और किसी भी विनियमन के अधीन नहीं हैं, यही कारण है कि ऐप स्टोरों के लिए ऐसे संदिग्ध ऐप्स को अपने प्लेटफॉर्म पर सूचीबद्ध होने से रोकने के लिए सख्त कदम उठाना महत्वपूर्ण है।

cre ट्रेंडिंग कहानियाँ

इस खतरनाक स्थिति का सामना करते हुए, कामथ ने पीड़ितों से आधिकारिक साइबर क्राइम पोर्टल https://cybercrime.gov.in के माध्यम से या 1930 पर कॉल करके शिकायत दर्ज करके मदद और न्याय पाने का आग्रह किया। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि मौजूदा कानून व्यक्तियों को उत्पीड़न से बचाने के लिए मौजूद हैं।

नितिन कामथ की वकालत ने पीड़ितों की दुर्दशा और कार्रवाई की तत्काल आवश्यकता की ओर ध्यान आकर्षित किया है। आत्महत्या की घटनाएं और संबंधित उत्पीड़न बेईमान उधार प्रथाओं से उत्पन्न खतरों की गंभीर याद दिलाते हैं। इन लुटेरे ऋण देने वाले ऐप्स को उजागर करने और जड़ से उखाड़ने का ठोस प्रयास उपभोक्ता संरक्षण के महत्व और फिनटेक क्षेत्र में सख्त विनियमन की आवश्यकता को रेखांकित करता है।

केंद्र सरकार ने हाल ही में कुछ चीनी क्रेडिट ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है

इससे पहले, भारत सरकार ने ग्राहकों को मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान करने और संवेदनशील जानकारी चीन तक पहुंचाने के लिए कुछ चीनी क्रेडिट ऐप्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई की थी। भारतीय दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने और कथित तौर पर बढ़ी हुई कीमतें वसूलने पर ऐप्स को Google Play Store से प्रतिबंधित कर दिया गया था।


#जरध #क #नतन #कमथ #न #सदगध #करडट #ऐपस #दवर #उतपडन #क #चतवन #द #और #पडत #क #सइबर #करइम #परटल #य #हलपलइन #क #मधयम #स #रपरट #करन #क #लए #परतसहत #कय #करपरट #समचर

[ad_2]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *